कंप्यूटर खरीदना है तो ऐसे ले सकते हैं एक्स्ट्रा डिस्काउंट कभी भी

हेलो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि आप किस प्रकार से नए कंप्यूटर को खरीदते करते समय कम से कम 5000 से ₹7000 एक्स्ट्रा बचा सकते हैं।

तो फ्रेंड यदि आपको कंप्यूटर खरीदना है या खरीदने वाले हो तो यह आर्टिकल स्पेशली आपके लिए लिखा गया है इसलिए इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़ें और समझें मेरा नाम है रवि कांत स्वर्णकार और आप पढ़ रहे हैं टेक्निकल टारगेट का एक आर्टिकल जहां पर आपको ऑलवेज टेक्निकल नॉलेज प्रोवाइड की जाती है।

दोस्तों वैसे तो हम कोई भी कंप्यूटर पर तेज करने से पहले हमेशा ऑनलाइन ऑफलाइन या अलग-अलग शॉपिंग वेबसाइट पर पर्टिकुलर प्रोडक्ट को सर्च करते हैं और कंपेयर करते हैं कि कौन सी वेबसाइट पर कितना डिस्काउंट मिल रहा है।

और क्या स्पेसिफिकेशन मिल रहा है लेकिन क्या आपको पता है कि आप डिस्काउंट के अलावा भी और भी पैसे डिस्काउंट के रूप में बचा सकते हैं वह कैसे करना होगा यह हम इस आर्टिकल में अभी जानने वाले हैं दोस्तों हम सभी बेसिकली जब भी कंप्यूटर परचेस करने का सोचते हैं तो हम सबसे पहले फ्लिपकार्ट या अमेजॉन जैसी वेबसाइट पर लैपटॉप लिखकर सर्च करते हैं।

और उसमें बहुत सारे लैपटॉप में देखने को मिलते हैं लेकिन आप उनमें से वह लैपटॉप पसंद करते हो जो आपकी नीड को पूरा करता है और साथ ही साथ प्राइस भी कम रहती है लेकिन आप उसमें स्पेसिफिकेशन में ध्यान दें तो आपको पता चलेगा कि एक ही कंप्यूटर के अलग-अलग स्पेसिफिकेशन पर अलग-अलग प्राइस देखने को मिलते हैं।

जहां पर रैम के आधार पर स्टोरेज के आधार पर या फिर ऑपरेटिंग सिस्टम के आधार पर प्राइस को अलग-अलग सीमेंट में बांटा गया होता है फ्रेंड्स आपको यह देखना जरूरी होता है कि आपको कौन सा प्राइस कौन से स्पेसिफिकेशन सूट हो रहा है अब हम जानते हैं कि आपको पैसा बचाना कैसे हैं।

windows vs ubuntu

यहां पर मैं कहना चाहूंगा कि आप कंप्यूटर को खरीदते समय अपनी आवश्यकतानुसार कॉन्फ़िगरेशन का सिलेक्शन करें जैसे कि आपको ऑफिस वर्क के लिए कंप्यूटर पर चेंज करना है तो आपके लिए 4GB रैम का कंप्यूटर लैपटॉप पर्याप्त होता है साथ ही साथ 500 जीबी हार्ड डिक्स पर्याप्त होती है।

बात करते हैं प्रोसेसर प्रोसेसर में आप dual-core, क्वॉड कोर, जैसे प्रोसेसर को सिलेक्ट कर सकते हैं लेकिन यदि आपको हाइपरफारमेंस वाले कंप्यूटर की आवश्यकता है तो आपको I3 I5 वाले प्रोसेसर पर मूव कर जाना चाहिए, जिसके लिए फिर आपको कम से कम 8GB रैम का यूज़ करना होगा तो पहली बात तो यहां पर यह क्लियर हो गई कि यदि अगर आप का वर्क ऑफिस का है तो आपको छोटा कॉन्फ़िगरेशन का लैपटॉप भी पर्याप्त होता है।

इसलिए आपको एक्स्ट्रा पेमेंट करके ज्यादा हैवी लैपटॉप परचेज करने की आवश्यकता नहीं है लेकिन फिर भी यदि आप अभी परफॉर्मेंस के हिसाब से हैवी कंप्यूटर परचेज करना चाह रहे हैं तो भी आप एक्स्ट्रा पैसे बचा सकते हैं वह कैसे अब दोस्त ध्यान देना है आपको कि आपको कौन सी विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करना है यदि आप विंडोज का ऑपरेटिंग सिस्टम वर्जन 10 लेंगे तो आपको कंप्यूटर की प्राइस 5000 से ₹7000 तक एक्स्ट्रा देनी होगी।

लेकिन यदि आप विदाउट windows10 ऑपरेटिंग सिस्टम के लैपटॉप को परचेस कर लेते हैं या कहा जाए कि दोस्त वर्जन या लाइन एक्स वर्जन के साथ कंप्यूटर को परचेस करते हैं तो आपके कंप्यूटर की प्राइस में से 5000 से ₹7000 और एक्स्ट्रा बच जाएंगे जिन्हें आप हार्डवेयर की प्राइस में ऐड करके कम प्राइस में ही अच्छा कॉन्फ़िगरेशन ले सकते हैं.

लेकिन अब आप लोगों के मन में एक सवाल आ रहा होगा कि आज के टाइम पर windows10 एक बहुत ही पॉपुलर ऑपरेटिंग सिस्टम बन गया है जिस पर लगभग सभी लोग वर्क करना पसंद करते हैं तो फिर हम 10 या लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम को क्यों परचेस करें।

तो दोस्तों मैं आपको यह बताना चाहूंगा कि यदि आप विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के किसी पर्टिकुलर ऑपरेटिंग सिस्टम बाय सॉफ्टवेयर का यूज नहीं करते हैं जैसे टैली एडोब फोटोशॉप जैसे सॉफ्टवेयर का यूज़ करना नहीं चाहते हैं लेकिन आप ऑफिशियल वर्क करना चाहते हैं जैसे वर्ड एक्सल पावरप्वाइंट इंटरनेट ईमेल आदि काम करना चाहते हैं या फिर वेब सर्फिंग करना चाहते हैं।

तो आपके लिए windows10 पर पैसा वेस्ट करना अच्छा नहीं होगा इसके लिए आप लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम का उबंटू वर्जन यूज कर सकते हैं जो टोटली फ्री ऑफ कॉस्ट है जिसमें कभी भी वायरस भी नहीं आते हैं और ऑलवेज अपडेट भी मिलते रहेंगे और आपके बेसिक नीड्स के सारे के सारे वर्क आफ लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम पर कर पाएंगे जहां पर आपको किसी भी प्रकार का एक्स्ट्रा पेमेंट करने की आवश्यकता नहीं होगी साथ ही साथ आपके कंप्यूटर में अगर कॉन्फ़िगरेशन कम है।

तब भी यह ऑपरेटिंग सिस्टम आपके कंप्यूटर की परफॉर्मेंस को विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के अपेक्षा ज्यादा से ज्यादा बूस्ट करता है इसलिए मेरा पर्सनल सजेशन आपको यह रहेगा यदि आपको ओन्ली ऑफिस वर्क करना है तो आपके लिए लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम वाला कंप्यूटर परचेज करना एक चॉइस होगी।

दोस्तों लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम आपको एमएस ऑफिस जैसे समस्त सॉफ्टवेयर को फ्री ऑफ कॉस्ट किसी दूसरे नाम से जैसे लाइबरऑफिस ओपन ऑफिस आदि नाम से फ्री ऑफ कॉस्ट उपलब्ध कराता है जिन्हें आप अपने कंप्यूटर में किसी एक्स्ट्रा पेमेंट के यूज कर पाएंगे साथी साथ आपको एंटीवायरस डलवाने की आवश्यकता भी नहीं होगी और साथ ही साथ अपने सिस्टम को अपडेट करने पर भी कोई भी पेमेंट नहीं करना होगा और इसमें आपको परफॉर्मेंस भी विंडोस कंप्यूटर की अपेक्षा कई गुना बेहतर मिलेगी इसलिए आप ध्यान रखें कि अगर आपको विंडोज बेस्ड सॉफ्टवेयर का यूज नहीं करना है या फिर आपको बेस्ट परफॉर्मेंस क्वालिटी सेंटर से प्लस सिक्योरिटी चाहिए है तो आपको लैंग्वेज यूज करना चाहिए।

दोस्तों अब हम जानते हैं लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम के कुछ फीचर्स के बारे में जो निम्नानुसार हैं-

  • लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम पूरी तरह से फ्री ऑफ कॉस्ट होता है।
  • लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम को आप बिना स्टॉल किए पेनड्राइव की मदद से भी सेकंड ऑपरेटिंग सिस्टम के तौर पर यूज कर सकते हैं।
  • लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम आपको बेस्ट परफॉर्मेंस के साथ-साथ सिक्योरिटी भी प्रोवाइड कर आता है।
  • लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम में वायरस के आने की समस्या नहीं होती है।
  • लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम लो कॉन्फ़िगरेशन के कंप्यूटर पर भी अच्छी परफॉर्मेंस देने में सक्षम होता है।
  • लाइनेक्स को आप यहां से डाउनलोड कर सकते हैं।
linux laptop

तो आइए अब जानते हैं कुछ बेस्ट लाइन एक्स्ट बेस्ट लैपटॉप जो आप खरीद सकते हैं-

Linux Based Ubuntu Laptop on FlipKart | Amazon | TataCliq | Croma

कंप्यूटर खरीदना है तो ऐसे ले सकते हैं एक्स्ट्रा डिस्काउंट कभी भी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *